Thursday, May 3, 2018

बॉलीवुड में आमिर के 30 साल

फिल्म अभिनेता आमिर खान का बॉलीवुड में 30 साल पूरे हो गए हैं। आमिर ने फिल्म कयामत से क्यामत तक से अपने फिल्मी करियर की शुरूआत की । उनका फिल्मी सफर दंगल तक पहुंच गया। आमिर उन गिने-चुने अभिनेताओं में से हैं जिन पर उम्र कभी हावी नहीं हुआ। आमिर का जन्म 14 मार्च 1964 को मुंबई में हुआ। आमिर स्वतंत्रता सेनानी अबुल कलाम आजाद के परिवार से आते हैं। आमिर की पढ़ाई मुंबई में ही हुई है। आमिर फिल्म निर्माता ताहिर हुसैन और जीनत हुसैन के बेटे हैं। आमिर जब 8 साल के थे तो उन्होंने अपने चाचा नासिर हुसैन की फिल्म यादों की बारात में अभिनय किया। ये फिल्म बॉलीवुड की पहली मसाला फिल्म मानी जाती है। इसके बाद आमिर ने अपने पिता के प्रोडक्शन में बन रही फिल्म मदहोश में काम किया। इस दौरान आमिर ने असिस्टेंड डायरेक्टर का काम भी किया। इसके साथ ही उन्होंने डॉक्यूमेेंट्री फिल्मों में भी काम किया। लेकिन एक अभिनेता के तौर पर आमिर की पहली फिल्म कयामत से कयामत तक थी जिसका निर्देशन उऩके चाचा नासिर हुसैन ने की थी। फिल्म में आमिर के अपोजित जूही चावला थी। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया। इसके बाद आमिर ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया। उनकी फिल्मों की फेहरिस्त इतनी लंबी है कि उसे समेत पाना मुश्किल है। आमिर ने 1989 में फिल्म राख में काम किया जिसके लिए उन्हें नेशनल अवार्ड मिला। 1990 में आई उनकी फिल्म दिल ने बॉक्स ऑफिस के रिकॉर्ड तोड़ दिए। इसी तरह आमिर ने फिल्म बेटा, राजा हिन्दुस्तानी, सरफरोश जैसी कई फिल्मों के जरिए अपनी काबिलियत साबित की। आमिर खान ने 1999 में अपनी प्रोडक्शन कंपनी बनाई जिसके बैनर तले उन्होंने 2001 मेें लगान जैसी अदभुत फिल्म बनाई। इस फिल्म ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी तारीफ पाई। इसके बाद आमिर ने रंग दे बसंती में काम किया। उनकी फिल्म फना ने भी बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त कमाई की। आमिर ने अपनी प्रोडक्शन कंपनी के बैनर तले तारे जमीं पर और पिपली लाइव जैसी फिल्म बनाई। 2007 में बनी तारे जमीं पर फिल्म के निर्देशन के लिए आमिर को बेस्ट डायरेक्टर का अवार्ड मिला। इसके अलावा आमिर ने 2008 में गजिनी फिल्म में काम कर तारीफ बटोरी। उन्होंने 2009 में बनी फिल्म थ्री इडियट में काम किया। इस फिल्म ने कामयाबी के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। इसके बाद 2013 में धूम 3 और 2014 में पीके आई। 2016 में आई फिल्म दंगल ने आमिर को फिर बेस्ट एक्टर का खिताब दिलाया। आमिर खान ने सत्यमेव जयते के जरिए टेलीविजन में काम किया। आमिर कोई भी काम परफेक्ट करना चाहते हैं। यही वजह है कि आमिर को बॉलीवुड में मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से पुकारा जाता है। 

No comments:

Post a Comment