Monday, April 2, 2018

विरोध की आग

सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय से 2 अप्रैल को पूरा भारत बंद हो
गया। दरअसल शीर्ष न्यायालय ने कानून के दुरुपयोग को देखते हुए दलित प्रताड़ना निरोधक कानून 1989 की सख्ती में कमी लाई है। जिस पर सियासत शुरू हो गई और सियासत की आग में पूरा भारत जल उठा। इस दलित आंदोलन में 7 लोगों की मौत हो चुकी है। सैकड़ों लोग घायल हुए हैं। करोड़ों की संपत्ति बर्बाद कर दी गई है। सड़कों पर आंदोलनकारी हथियार लेकर प्रदर्शन करते नजर आए। आंदोलनकारियों ने हिंसा का सहारा लेते हुए स्कूल कालेज दुकानों को जबरन बंद कराया। बस कार बाइक समेत थानों को फूंकने वाले बदमाश दलित नहीं हो सकते। आज के उपद्रव में दलित आंदोलन अपना रास्ता भटक गया।

No comments:

Post a Comment