Saturday, March 3, 2018

आजतक की गलती नंबर वन

दूर-दूर तक नहीं कोई, नंबर वन सिर्फ आजतक। सर्वश्रेष्ठ न्यूज चैनल का दंभ भरने वाले आजतक का हाल ये
है कि इसके कर्मचारियों को गिनती भी नहीं आती। त्रिपुरा विधानसभा के रुझान दिखाने के चक्कर में आजतक ने 59 सीटों में से लेफ्ट को 40 सीटें दे दी वहीं बीजेपी को 19 सीटें थमा दी। जबकि हकीकत ये है कि त्रिपुरा में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिल रहा हे। यहां बीजेपी को 40 सीटें मिल रही हैं वहीं लेफ्ट को 19 सीटों पर ही संतोष करना पड़ रहा है। ये पहली बार है कि यहां लाल की जगह भगवा लहर देखने को मिल रही है। त्रिपुरा और नागालैंड में भगवा सरकार बनने जा रही है। वहीं मेघालय में कांग्रेस सरकार बनाने की कोशिश में जुट गई है। यहां पर कांग्रेस को 19 सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं एनसीपी को भी 19 सीटें मिलती दिखाई दे रही है। यही वजह है कि मेघालय में पंजा अपनी पकड़ और मजबूत बनाने की कवायद में जुट गया है। इसका जिम्मा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल को सौंपी गई  है। राजनीति की बात अब यही खत्म करते हैं और मीडिया की बात करते हैं। मीडिया जल्दबाजी के चक्कर में ऐसी गलतियां कर जाता है कि दर्शकों को सोचना पड़ता है कि वो किस पर विश्वास करे सबसे तेज आजतक पर या फिर चैनल जो कहता है 'आपको रखे आगे' । इस आगे और पीछे के चक्कर में बड़े-बड़े चैनल ऐसी गलतियां कर जाते हैं जिससे उनकी विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा हो जाता है। सबसे तेज के चक्कर में आज तक का हाल क्या है। ये आप तस्वीर को देखकर समझ सकते हैं। 

No comments:

Post a Comment