Monday, February 5, 2018

बाजार इतना सुस्त क्यों है भाई ?

सोमवार को सेंसेक्स 309.59 अंक गिरकर 34,757 पर बंद हुआ। इसी तरह निफ्टी भी 94.05 अंक लुढ़क कर 10,666 पर बंद हुआ। मोदी सरकार का बजट पेश होने के बाद बाजार को जोर का झटका जोर से ही लगा है। बजट पेश होने के पहले बाजार ग्रीन था, लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली जी जैसे-जैसे बजट को पढ़ने शुरू किया, शेयर बाजार भी लुढ़कने लगा। बजट के दूसरे दिन तो हद हो गई जब सेसेंक्स 800 अंक तक गिरा। गिरने का सिलसिला जारी है, मगर सरकार है कि कहती है कि कुछ दिनों में हालात सुधर जाएंगे। यानि सरकार किसी की नहीं सुनने वाली। उसने जो तय कर लिया उससे एक इंच भी वो पीछे नहीं हटेगी। यही  मोदी सरकार की खूबसूरती है। वो अपने कहे पर अडिग रहती है। लिहाजा सरकार का रुख साफ है। अब बाजार और निवेशकों को तय करना होगा कि अच्छे दिन कब आएंगे? सेंसेक्स और निफ्टी का लगातार नीचे गिरना कब थमेगा? कब बाजार का आंकड़ा 40 हजार के बार जाएगा? शेयरों के दाम गिरने से क्या भारत की अर्थव्यवस्था  पर असर पड़ेगा? शायद इसका बेहतर जवाब वित्त मंत्री अरुण जेटली देंगे। उन्हें पता है कि भारत की बीमार अर्थव्यवस्था को कैसे ठीक किया जा सकता है!

No comments:

Post a Comment