Wednesday, February 28, 2018

नशा, कलाकार और बॉलीवुड

बुधवार को बॉलीवुड की 'चांदनी' श्रीदेवी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। लेकिन उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जो खुलासा हुआ है उसके अनुसार उनके खून में अल्कोहल की मात्रा पाई गई है। लिहाजा बॉलीवुड पर फिर उंगली उठ गई है। बॉलीवुड पर अक्सर ये आरोप लगता रहा है कि सितारे नशे के गुलाम होते हैं। हैरानी की बात है कि जो एक्टर खुद शराब पीने का शौकीन है अब यदि वो ये कहे कि उसकी सोसायटी के लोग शराब नहीं पीते तो इस दावे की गंभीरता ही समाप्त हो जाती है। श्रीदेवी की मौत के मामले में नशे को लेकर जिस तरह से अभिनेता शक्ति कपूर ने बचाव किया, वो हैरान करने वाला है। एक न्यूज चैनल पर पैनल डिस्कशन में शक्ति कपूर ने कहा कि बॉलीवुड के एक्टर्स अपने हेल्थ को लेकर सजग हैं। इसलिए उनका नशा करना गलत आरोप है। जाहिर है शक्ति कपूर दुबई पुलिस की जांच रिपोर्ट को नकार रहे हैं जिसमें अल्कोहल का जिक्र किया गया है। खुद शक्ति कपूर पर नशे में मारपीट करने के आरोप लग चुके हैं ऐसे में नशे को लेकर उनका ये कहना कि बॉलीवुड के एक्टर्स नशा नहीं करते हैं, ये बात शक्ति कपूर के झूठ का खुलासा करता है। आपको बता दें कि साल 2001 में अभिनेता फरदीन खान ड्रग्स लेने के मामले में पकड़े गए थे। बॉलीवुड में ऐसे कई अभिनेता और अभिनेत्रियां हैं जो शराब या ड्रग्स का सेवन करते हैं। इनके नाम जाहिर करना उचित नहीं होगा। लिहाजा फोकस एक व्यक्ति पर न होकर बॉलीवुड के उस समाज पर है। जिसमें दिलों पर राज करने वाले सितारे रहते हैं। श्रीदेवी का असमय जाना बॉलीवुड को बहुत बड़ा सदमा तो दिया ही है, लेकिन श्रीदेवी बॉलीवुड के लिए एक बड़ा सवाल भी छोड़ गई  हैं कि नशे में कदम लड़खड़ा जाते हैं और जिंदगी तबाह हो जाती है। इस वक्त श्रीदेवी का हर प्रशंसक बॉलीवुड को चेतावनी दे रहा है कि वो नशे का दामन छोड़े वरना दर्शक ही फिल्म देखना छोड़ देंगे। आखिर कब तक फिल्म के सौंदर्य से खिलवाड़ किया जाएगा?  कब तक नशे के दृश्य के बीच वैधानिक चेतावनी लिखी जाएगी?  सवाल कई हैं, मगर जवाब सिर्फ बॉलीवुड को देना है।  

No comments:

Post a Comment