Tuesday, December 12, 2017

कांग्रेस: युवराज बन गए महाराजा !

हुकूमत किसे कहते हैं ये आप गांधी परिवार से सीख सकते हैं। वंशवाद का कैसे सही इस्तेमाल करना है? ये गांधी परिवार से सीखा जा सकता है। कल तक कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे राहुल गांधी अब पार्टी के निर्विरोध अध्यक्ष चुन लिए गए हैं। जाहिर हैं राहुल के कांग्रेस अध्यक्ष बनने से गांधी परिवार तो खुश तो होगा ही, राहुल समर्थक कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह की लहर दौड़ गई है। इस लहर में कार्यकर्यतों की उम्मीदें छिपी हैं।लोकसभा में कांग्रेस महज 44 सीटों तक ही सिमती है जबकि पिछले चुनाव में कांग्रेस को 206  सीट मिली थी। यानि कांग्रेस ने 2014 के चुनाव में 162 सीटों के नुकसान में पहुंच गई। भाजपा के हिन्दुत्व ने कांग्रेस को कही का नहीं छोड़ा। राहुल गांधी की सोशल मीडिया समेत भारतीय मीडिया ने जमकर मजाक उड़ाया। अब जब राहुल राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए हैं। उन पर जिम्मेदारी बढ़ गई है। उन्हें राजनेता के तौर पर खुद को साबित करना है। उन्हें कांग्रेस की डूबती नैया को बचाकर पार लगाना है। फिलहाल गुजरात चुनाव एक तरह से उनके लिए बड़ा इम्तिहान है। देखने वाली बात होगी कि राहुल इस इम्तिहान में पास होते हैं या फेल ?

No comments:

Post a Comment